किया कुलवानजी (Kulwanji) हमारे लिए अमृत है। कुलवांजी के तेल के फायदे 2021

Spread the love

आज कल हम कुलवानजी (Nigella seeds) का इस्तमाल दावा के तौर पर भूत ज्यादा होराहा है,ज्यादा तर कुलवानजी के दाने और तेल भूत ज्यादा इस्तमाल होरहा है। किलवांजी को अगर दूध के साथ इस्तमाल किया जाए तो भूत फायदा करता है

आप कुलवानजी को उर्दू में भी पढ़ सकते हो

कुलवांजी (Kulwanji) का मजा भूत खराब होता है और इसकी खुशबू बी कुछ अच्छी नहीं होती है। इसका हिंदी नाम काला दाना है। और फारसी में इसका नाम सियाह दाना है।

कुलवांजी का तेल हमारी लिए किसी उपहार से कम नहीं है। इसके इस्तमाल से कब्ज (constipation) खतम होजता है, इतना ही नहीं ये हमारा पाचन तंत्र (digestive system) भी मजबूत करता है। जोरों के दर्द और खून साफ करना जैसे कामों में कुलवानजी हमारी भूत सहायता करती है।

कुलवांजी का बालों के लिए इस्तमाल

दोस्तो अगर आपके बाल वक्त से पहले सुफैद होराहे हैं तो कुलवानजी का तेल बालों में रोज लगाने से बालों का काला पन जल्दी वापस आता है। ऐसा भी दैखा गया है की कुलवानजी का तेल कुछ महीनों तक इस्तमाल करने से गंजे पन जैसी बीमारियों से छुटकारा मिलसक्ता है।

कुलवांजी में इसे भूत सराय तत्व पाए गए हैं जिन के इस्तमाल से त्वचा (skin) में निखार और उसको मुलायम बनाता है, जैसे की विटमैन ए, उमाइगा फैटी एसिड और एंटीऑक्सीडेंट्स आदि।

कुलवांजी और कोलेस्ट्रॉल

कुकवानजी का बिलकुल साफ तेल नाक और दिमाग की झेली की इंफ्लेमेशन (infection) को आसानी से दूर कर सकता है। इस के और भी भूत सारे फायदे हैं जैसे की ! कोलेस्ट्रॉल (cholesterol) को कम करना, वजन को कम करना, पेशाब में बरोत्री करना और ज्यादा ब्लड प्रेशर (heigh blood pressure) को कम करना आदि।

दमा (asthma) की समस्या हर दिन भर रही है, इसे मरीजों को कुलवानजी के दाने फायदा दे सकताय हैं। कुलवांजी में प्रकृति ने इसे तत्व डाले हैं जो हमारी सांस की क्रिया को सामान्य करने में सहायता करती हैं। आपको हैरानी होगी की कुलवानजी में कैंसर विरोधी तत्व अधिक मात्रा में होते हैं तो कैंसर के मरीज इस से फायदा उठा सकतय हैं।

कुलवांजी का एंटी बैक्टिरियल असर

एक स्टडी में दैखा गया की कुलवानजी किटानू (Bacteria) को मार कर उसके चारों तरफ एक खोल बनता है, फिर वो उस खोल को इंतरियों तक पूंछा कर वहां से बाहर निकला दैता है। इस से ये पता चलता है की कुलवानजी हमारी लिए कुदरत का एक बेहतरीन उपहार है।

वैज्ञानिकों का कहना है की कुलवानजी कोरोना( Corona) के मरीजों को बेहद फायदा दैति है, क्योंकि कुलन्जी करना वायरस के डीएनए (DNA) में बदलाव करने की ताकत रखती है। यहां से हमको ये पता चलता है की अगर हम कुलवानजी का सेवन रोज करें तो हमारी सेहत को कितना फायदा होसकता है।

अगर आपको डायरिया हो तो कुलवानजी को दही के साथ इस्तमाल कर्सकतय हो। एक और लाभदायक तरीका है, कुलवानजी को जीरे के रायते के साथ इस्तमाल करें परैशानी भूत जल्द खतम होजाएगी।

कुलवांजी आपकी त्वचा के लिऐ

सर्दियों में सुखी त्वचा एक आम परैशनी है, इस दिकत को कम करने के लिए कुलवानजी के तेल में नारियल का तेल मिला कर उसको धूप में रखना होगा, इस तेल को आप अपने शरीर पर मालिश करें, इस तेल से त्वचा की खुश्की तो कम होगी ही,और तो और वो मुलायम भी होजाएगी।

कुलवांजी का इस्तमाल

कुलवांजी का इस्तमाल हर बीमारी में अलग अलग होता है,मेजर इसका इस्तमाल आम तौर पर एक माशा से दो माशा तक करना होता है। कुलवांजी का इस्तमाल डॉक्टर की सलाह के बगैर ना करें, ये खतरनाक होसक्ता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *